हक़ीक़त

क्या तेज़ाब से झुलशी चेहरे से मोहब्बत की है तुमने?
सच सच बताना.. नही न
फिर क्यों कहते हो
मोहब्बत चेहरे से नही दिल से होतीं हैं।

क्या हवस का शिकार बनी लडक़ी से दोस्ती की हैं तुमने?
सच सच बताना… नही न
तो फ़िर क्यों कहते हो
दोस्ती भेदभाव से नही दिल से होती हैं।

©Manthan Prateek

Spread the love