बेटी

बेटियों को ना समझो बेटो से कम

सोच बदलो और बढ़ाओ कदम

.. काजल मिश्रा..

 

Spread the love