खता बताते जाना

चलो अब जा ही रहे हो तो हमारी ख़ता बताते जाना,
बताते जाना की क्या गलती थी हमारी,
ये भी क्या तुमने मेरा दिल नहीं दुखाया,
और क्या तुमने मोहब्बत बड़े शौक से निभाया,
बताते जाना कि क्या मैंने तुम्हें तसव्वर में पनाह नहीं दी थी,
या तुम्हारे कदमों में खुशियां नहीं रखी थी,
हमारी चाहते हसरते मुलाकातें और रवायतें बताते जाना,
मेरे आंखों में ग़म छोड़कर मुस्कुराते जाना,
हमारे इश्क के हर लमहे की तुम याद सारी लेते जाना,
हां बस जाते हुए हमारी ख़ता बताते जाना

Spread the love