किस दुर्गा की पूजा करते हो?

सुनो, किस दुर्गा की पूजा करते हो?

वही जिसका रोज़ अपमान करते हो?

वही जिसकी थोड़ी सी गलती पर गालियों की बौछार करते हो?

उसका अपमान करके नौ दिन ढोंग की राह भरते हो |

सुनो! किस दुर्गा की पूजा करते हो?

वही जिसका रोज़ अपमान करते हो?

मां को मां की ही गाली दे कर मां के आगे सर झुका के रोते हो

एक औरत को कष्ट दे कर दूसरी को उसे हरने को कहते हो

सुनो, किस दुर्गा की पूजा करते हो?

वही जिसका रोज़ अपमान करते हो?

चेहरे पर हंसी तो रहती है पर मन उदास करते हो

वो भी कहती है मूर्ति छोड़ो पहले घर की बहू बेटी का सम्मान करो तुम

बुलाओ जब उसे गाली दे कर ना अपमान करो तुम

क्या तुम पूजा करते हो एक दुर्गा के चरित्र को नोच के दूसरी दुर्गा से आत्मसम्मान मिलने की बात करते हो?

सुनो, किस दुर्गा की पूजा करते हो?

वही जिसका रोज़ अपमान करते हो?

 

लेखिका (स्वाति पांडे)

Spread the love